Wednesday, August 18, 2010

Mera Aap Ki Kripa Se, Sab Kaam Ho Raha Hai

This is a very popular bhajan sung by Shri Vinod Agrawal and Baldev Krishan ji.
I have heard it live in Toronto when Vinod ji and Baldev ji were here from Aug 13 to August 15, 2010.
मेरा आप की दया से , सब काम हो रहा है
मेरा आप की कृपा से, सब काम हो रहा है
करते हो तुम कन्हैया, मेरा नाम हो रहा है

(पहले दया से, फिर कृपा से... क्या अंतर है? विनोदजी ने समझाया की दया होती है और कृपा की जाती है. उधाहरण के रूप में विनोदजी कहते है की दया अक-४७ की तरह है, सब तरफ बरस रही, जिसको लगी लगी. लेकिन कृपा तो रेवोल्वर की तरह निशाना लगा कर की जाती है. )

पतवार के बिना ही, मेरी नाव चल रही है
हैरान है ज़माना, मंजिल भी मिल रही है
करता नहीं मैं कुछ भी, सब काम हो रहा है...

तुम साथ हो जो मेरे, किस चीज़ की कमी है
किसी और चीज़ की अब, दरकार ही नहीं है
तेरे साथ से ग़ुलाम अब, गुलफाम हो रहा है

(विनोद जी कहते ही की उसके साथ का मतलब क्या है? वोह कोई बांसुरी बजता हुआ, पीताम्बर लहराता हुआ सामने थोड़े ही आ जायेगा. यह तो आग्रह है, यह ही हमारे मिलन में बाधक बन जाते है. अवतार वाद से पूरी बात नहीं बनती. अवतार में भगवन भक्तो को जीवन जीना का तरीका बताते है. अगर उनको अपने अवतार में इतना कुछ सहना पड़ा तो हमारी औकात ही क्या. क्या वोह अपने संकल्प मात्रा से हे सब संकट और बाधाएं दूर नहीं कर सकते है. लेकिन उन्होंने समझाया है.
इस आग्रह को भक्ति में दुराग्रह भी कह देते है. उसको आना किसी और रूप से था लेकिन जब हमने अपना आग्रह रख दिया, तो वोह कहता है की जब मौका लगेगा तभी आऊँगा.
अगर हम परेशानी में हो, और किसी बात से हमारा काम बन जाए तो समझना की वोह इश्वर की कृपा ही थी. ऐसे अवसर पर हम अपने पुरुषार्थ को, दुसरे की एहसान को ही मान लेते है. लेकिन अगर हम इश्वर की कृपा को मान लें, तो वोह अनुभव द्रढ़ हो जाएगा और हमें आगे लेता जाएगा...)

मैं तो नहीं हूँ काबिल, तेरा प्यार कैसे पाऊँ
टूटी हुई वाणी से, गुणगान कैसे गाऊं
तेरी प्रेरणा से ही, सब तमाम हो रहा है
तेरी प्रेरणा से ही यह कमाल हो रहा है...

मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है..

(इस भजन की कुछ और लाइन नांगलोई के प्रोग्राम से मिली... यहाँ लिख रहा हूँ)

तूफ़ान आंधियों में तू ने ही  मुझको थामा
तुम कृष्ण बन के आये, मैं जब बना सुदामा
तेरा करम है मुझ पर, सरे आम हो रहा है
करते हो तुम कन्हैया.. मेरा नाम हो रहा है...

गज के रुदन से प्यारे, थे नंगे पाँव धाये
काटे थे उसके बंधन और प्राण थे बचाए
हर हाल में भगत का सनमान हो रहा है...
करते हो तुम कन्हैया मेरा नाम हो रहा है...
मेरा आपकी कृपा से...

9 comments:

  1. Bhakti ras ka anand uthate hue yehi kehna chahunga ki iss bhajan ka simran karke mujhe bahut sakoon mila hai.

    These words are medicine for me. It not only helped me to feel calmer but it also re-enforced that we are just the medium.

    Bahut acha kiya Ashish jo tumhne yeh blog shuru kiya. Aaj mera pura din alag hi baav may beet raha hai.

    ReplyDelete
  2. Now you can listen to this bhajan online or download it from :
    http://www.sankirtansewa.org/website/audio-bhajan-vinod-aggarwal/1-mera-aap-ki-kripa-se-audio-vinod-agarwal

    ReplyDelete
  3. this one owsome i need this one in mp3 if anyone have this bhajan full format pls send me on my id jin_b007@yahoo.co.in

    ReplyDelete
  4. Bharat, you can download from mp3 from: http://www.sankirtansewa.org/website/audio-bhajan-vinod-aggarwal/1-mera-aap-ki-kripa-se-audio-vinod-agarwal

    ReplyDelete
  5. Awesome... Mujhe parmatma par bahut bahut vishwaas hai... Sach kahun.. Ye hum hote hain jo parmatma ko yaad nahi karte.. parmatma hain ki woh kabhi humein bhoolte nahin.
    Dont tell God how big your problem is.. Always tell the problem how big your god is.

    When I started counting my blessings, my whole life turned aroung.

    ReplyDelete
  6. sanjay sharma jabalpurJune 14, 2012 at 11:06 AM

    yeh prabhu ki kripa hai jo aapko is bhajan ko sunne ka avsar mila. aap mein kuch hai jo bhagwan shri Krishna ki aap par daya hai. bhagwan shri Krishna hi sab karvaate hain, unki marzi se sab hota. woh karne wale hain. is par hamara koi bas nahin hain.sab uni maaya hai. jai shri Krishna.

    ReplyDelete
  7. very nice bhajan direct prabhu se mulakat hoa raha hain karte ho tu kanhainya mere nam ho raha hain jai ho ...........

    ReplyDelete
  8. vinod agarwal ke jitne bhajan aur kisi ke bhi pass hai wo mujhe maere EMAIL ID per send kare jigar.thaker@yahoo.com

    ReplyDelete
  9. Every time I listen this bhajan.. it make me cry and also make me realize that how blessed I am.. that almighty has given me so much and he is always there with me.

    ReplyDelete